728x90 AdSpace

Followers

Latest News

Proudest Linkedin Member

Saturday, June 9, 2018

AURA- EK PARIVARTAN

आभा ( ओरा )एक ऊर्जा से भरी एक चुंबकीय शक्ति  है,जिसे  एक जीवित शरीर के चारों ओर  पाई जाती है/  जिसे कुछ लोगों को ही ज्ञान होता है  और सबसे अधिक बच्चे  इसे देख सकते है  हैं/क्युकी यह आभा देखने के लिए शुद्ध मन की जरुरत होती है। आभा लगातार बदलती  रहती  है, अपनी भावनाओं, विचारों, कार्यों का प्रभाव आभा ऊपर पड़ता है/

Inline image 1


 सब कुछ आप की  शरीर की  प्रतिक्रिया पर निर्भर है जैसे की  खाना - खाद्य पदार्थ,पीना - पेय  और दवाओं का  भी इस पर असर पड़ता है। कई परतों से आभा बनती है। आभा के कई रंग होते है जैसे की  सबसे अधिक इंद्रधनुष के रंग हैं,क्युकी इन्द्रधनुष का मतलब ही सब रंगों का मेल है , वैसे शरीर के अलग अलग चक्र जो आभा से जुड़े है और उन्हें उर्जा केंद्र का उत्पन स्थान भी कह सकते है/ यह नाडी से भी जुड़े हुए इन्हें 'आभा चक्र ' कहा जा सकता है/

  मनोविज्ञान clairvoyants, और माध्यमों अक्सर आभा देख सकते हैं /
इसे भी एक विज्ञान कह सकते है/ clairvoyants का अर्थ हम यह बी कह सकते है की जो इन्सान इस आभा चक्र को समज सकता है या उसे पढ़ सकता है/ यह एक कुदरत की बक्शीश कह सकते है/ जिससे हम पता लगा सकते है के भविष्य की जानकारी, या कोई बीमारी जो हमारे अन्दर हो और होनेवाली बीमारी को बी रोका  जा सकता है/

Inline image 2
हमारी सकारात्मक उर्जा इसमें बहोत महत्वपूर्ण भाग देती है/ अगर किसी बी कार्य को हमें पूरा करना हो तो पहले हमें सकारात्मक उर्जा को उत्पन करना पड़ता है वो बी सिर्फ हमारी सोच से। 
आज  इन्सान जिस दौर में अपनी जिन्दगी बिता रहा है उसमे सकारात्मक उर्जा कम और नकारात्मक उर्जा ज्यादा प्रभावित है। इसीलिए अगर इन्सान किसी ऐसे  व्यक्ति से मिलता है, जिससे उसे उस इन्सान के विचार प्रभावित करते है तो वो उसकी उर्जा और आभा का प्रभाव है। जैसे विचार वैसे वो उर्जा पाएगा। 
एक हेतु यह भी है की आज की पीढ़ी को अपनी इस सकारात्मक उर्जा से उन्हें अपनी शक्ति का एहसास कराया जा सकता है। किसी बीमार व्यक्ति को आभा के द्वारा  मजबूत बनाया जा सकता है।पर सकारात्मक विचार बहोत जरुरी है। 


Inline image 3
यह कई रंग इंसान की मानसिक और जिस्मानी  हल चल का भी ख्याल देता है। हम इसे सिर्फ और सिर्फ अपनी  सोच के जरिये ही बदल सकते है। जैसे किसी गुरु या भगवान की फोटो के पीछे हम अक्सर आभा देखते है। मैडिटेशन या ध्यान के जरिये हम हमारी आभा को एक वातावरण में फैला सकते है, जिससे हमारी सकारात्मक उर्जा और आभा किसी और इन्सान को प्रभावित कर सकता है और हम एक मदद या सेवा भी कर सकते है।जिसे हम मानसिक और शारीरिक तरंगो  को समाज में फैलाते है।

ध्यान एक शक्ति है जो आभा और उसके साथ उर्जा को भी  संतुलित करती है। हम मानसिक स्थिति ही नहीं पर शारीरिक स्थिती को बी बदल सकते है, केवल हास्य और सकारत्मक विचार ही जीवन में आगे जाने का मार्ग है। अगर इसे एक डिजाईन के रूप में और कोर्स के रूप में किया जाए तो हम दुनिया और खुद की मदद कर सकते है।
Inline image 4
क्युकी स्वस्थ सोच और स्वस्थ शरीर से ही लोगो की मदद की जा सकती है। एक इस विज्ञान को बिना मूल्य हम खुद की और इंसानियत की सहायता कर सकते है।
  • Blogger Comments
  • Facebook Comments

0 comments:

Post a Comment

Thanks you Visit Awesome Raja.
www.awesomeraja.ml
[email protected]

Item Reviewed: AURA- EK PARIVARTAN Rating: 5 Reviewed By: Vesuvius